शहीदों के परिजनों से मिले राहुल, प्रियंका

लखनऊ। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा ने पुलवामा में शहीद हुए जवान के परिजनों से मुलाकात की और उनको ढाढस बंधाया। दोनों भाई बहन ने शहीद के परिजनों से कहा कि वे अपनों के जाने का दर्द समझते हैं क्योंकि उन्होंने भी अपने पिता और दादी को हिंसा में खोया है।

राहुल गांधी बुधवार को अपनी बहन व पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ शहीद अमित कुमार कोरी को श्रद्धांजलि देने के लिए आयोजित प्रार्थना सभा में शामिल हुए और परिवार को ढाढस बंधाया। कांग्रेस ने ट्विट करके इसकी जानकारी दी। दोनों नेताओं ने शहीद की फोटो पर फूल चढ़ा कर श्रद्धांजलि दी। शामली में हुई प्रार्थना सभा में कांग्रेस महासचिव व पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर भी मौजूद थे।

प्रार्थना सभा में उत्तर प्रदेश के गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा भी शामिल हुए। राहुल ने कहा - दुख की इस घड़ी में हम सभी आपके साथ हैं। मैं कहना चाहता हूं कि हमें दुख है लेकिन साथ ही शहीद पर गौरव भी है कि इस देश के एक परिवार ने अपने पुत्र को भरपूर प्यार दिया और उसे पढ़ाया। पुत्र ने अपना प्यार, शरीर और हृदय देश को दिया। हम इस बात को कभी नहीं भूल सकते।

राहुल गांधी ने कहा- मेरी बहन ने कहा कि एक प्रकार से हमारे पिता के साथ भी यहीं हुआ था। हम आपकी पीड़ा समझते हैं। हम यहां केवल आपके साथ पांच मिनट बैठने आए हैं और यह बताने आए हैं कि हम आपका दुख बांटना चाहते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा- मैं सीआरपीएफ के शहीदों के परिवार वालों को कहना चाहता हूं कि दुनिया की कोई भी ताकत इस देश को पीछे नहीं धकेल सकती। यह जांबाजों का देश है और उन्होंने मिसाल कायम की है। हम अपने हृदय की गहराइयों से और देश की ओर से आपका, आपके बेटे और पूरे परिवार का धन्यवाद करते हैं।

उन्होंने कहा- यह देश हर किसी के लिए है और यह देश प्रेम और भाईचारे का देश है। यहीं भारत का संदेश है। कांग्रेसी पार्टी के सारे नेता शहीद प्रदीप कुमार के घर भी गए। वहां उन्होंने शहीद की फोटो पर फूल चढ़ा कर श्रद्धांजलि दी और परिवार वालों को ढाढस बंधाया। पुलवामा आतंकी हमले में उत्तर प्रदेश के 12 जवान शहीद हुए थे। इनमें से दो अमित कुमार और प्रदीप कुमार शामली से थे।

152 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।