कांग्रेस ने ईरानी पर लगाए गड़बड़ी के आरोप

नई दिल्ली। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा पर जमीन सौदे में आरोप लगाने के एक दिन बाद कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर निशाना साधा। कांग्रेस ने उनके ऊपर सांसद निधि में गड़बड़ी के आरोप लगाए। कांग्रेस ने गंभीर वित्तीय गड़बड़ी के आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को उन्हें मंत्रिमंडल से बरखास्त कर देना चाहिए। कांग्रेस ने यह भी कहा कि इस मामले में स्मृति के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मामला दर्ज किया जाए।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्ति सिंह गोहिल ने संवाददाताओं से कहा- मोदी जी और उनके करीबी करोड़ों से कम खाते नहीं और ईमानदार लोगों को चैन से रोटी खाने नहीं देते। उन्होंने दावा किया- यह जानकारी गुजरात में आणंद जिले के कलेक्टर के लिखे पत्र और सीएजी की जांच से सामने आई। स्मृति ईरानी ने गांव को मिलने वाले पैसे खुद की जेब में डालने के लिए एक गांव गोद लिया।

गोहिल ने कहा- सांसद निधि को लेकर स्पष्ट गाइडलाइन है कि आप ठेका किसी को भी दे सकते हैं, लेकिन अमल करने वाली एजेंसी सरकार होती है। स्मृति जी ने फोन कर शारदा मजदूर कामदार सहकारी मंडली नाम की सहकारी संस्था को अमल का ठेका दिलवाया। उन्होंने कहा कि गाइडलाइन के मुताबिक, 50 लाख रुपए से ज्यादा का किसी को ठेका नहीं दिया जा सकता। लेकिन स्मृति ईरानी ने करोड़ों का ठेका दिलवाया। इस संस्था को करीब छह करोड़ रुपए का भुगतान किया गया।

गोहिल ने दावा किया कि कलेक्टर ने जांच कराई तो पाया कि काम कुछ नहीं हुआ, सिर्फ पैसा खाया गया। सीएजी ने इसका गंभीरता से संज्ञान लिया और रिकवरी की बात की। साथ ही गोहिल ने यह भी कहा कि चुनाव नजदीक है और अगर थोड़ी भी नैतिकता बची है तो स्मृति इस्तीफा दें। मोदी जी, थोड़ी अंतरात्मा जग जाए तो इन्हें बरखास्त करें। पार्टी के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि गंभीर वित्तीय अनियमितता के लिए स्मृति ईरानी को बरखास्त करने के साथ ही उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक कानून के तहत मामला दर्ज किया जाए।

43 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।