भाजपा ने राहुल पर किया पलटवार

नई दिल्ली। मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कराने के लिए संयुक्त राष्ट्र संघ में लाए गए प्रस्ताव के फेल हो जाने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की टिप्पणी को लेकर भाजपा ने पलटवार किया है भाजपा ने राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा है कि जब आतंकवाद पर पूरे देश को तकलीफ होती है तो राहुल गांधी को खुशी होती है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा- 2009 में सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार के समय भी चीन ने इसी तकनीकी आपत्तियों का हवाला देते हुए मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित नहीं होने दिया था। राहुल गांधी क्या आपने तब इस विषय पर कोई बयान दिया था या कोई ट्विट किया था? उन्होंने सवाल किया कि जब आतंकवाद के विषय पर पूरे देश को पीड़ा होती है तब आपको खुशी क्यों होती है?

गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र में चीन ने एक बार फिर जैश सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने संबंधी प्रस्ताव के विरोध में अपने वीटो अधिकार का इस्तेमाल किया। इस पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग से डरे हुए हैं। इसे लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने ट्विट में कहा कि पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू मूल रूप से दोषी हैं, जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता के लिए भारत की बजाय चीन का पक्ष लिया था।

बहरहाल, रविशंकर प्रसाद ने कहा - राहुल गांधी जी, चीन की बात निकलेगी तब बहुत दूर तलक जाएगी और इसमें आपकी विरासत की भूमिका की भी चर्चा होगी। आज आपकी विरासत के कारण ही चीन सुरक्षा परिषद का सदस्य है। उन्होंने कहा कि विदेश नीति में क्या, कब, कितना बोलना है यह महत्वपूर्ण होता है। इस मुद्दे पर पूरे देश से एक स्वर निकल रहा है। प्रसाद ने जवाहरलाल नेहरू को निशाना बनाते हुए राहुल से कहा- यदि आपके नाना ने भारत की कीमत पर वह सीट चीन को तोहफे में नहीं दी होती तो सुरक्षा परिषद में चीन नहीं होता।

49 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।