दिल्ली गोल्फ क्लब के खिलाफ खड़े हुये दिल्ली के गोल्फर

नई दिल्ली।  राशिद खान, शमीम खान, कपिल कुमार और हनी बैसोया जैसे दिल्ली के दिग्गज गोल्फरों ने दिल्ली गोल्फ क्लब पर उनके साथ अन्याय करने का आरोप लगाते हुये अपनी आवाज़ बुलंद की है। राशिद, शमीम और बैसोया सहित दिल्ली गोल्फ क्लब से तैयार लगभग 20 गोल्फरों ने गुरूवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में दिल्ली गोल्फ क्लब प्रबंधन पर मनमाना रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुये कहा कि क्लब प्रबंधन इस गोल्फ कोर्स से बने दिल्ली के प्रोफेशनल गोल्फरों के साथ अन्याय कर रहा है। इन गोल्फरों ने अपने वकीलों की टीम के साथ कहा,“क्लब प्रबंधन देश के लिये खेलने वाले और देश के लिये गौरव लाने वाले इन प्रोफेशनल गोल्फरों को गोल्फ कोर्स में अभ्यास करने और खेलने से रोक रहा है जिसका उनके करियर पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है।”

एशियाई चैंपियन और एशियाई खेलों में पदक जीतने वाले राशिद और राष्ट्रीय चैंपियन शमीम ने कहा,“क्लब प्रबंधन भारत सरकार के दिशा निर्देशों की खुलकर अवहेलना कर रहा है। इस गोल्फ कोर्स को खेलों को प्रोत्साहन देने के लिये करोड़ों की जमीन दी गयी लेकिन एक प्राइवेट क्लब की तरह चल रहा दिल्ली गोल्फ कोर्स खिलाड़ियों को ही खेलने नहीं दे रहा है।”

खिलाड़ियों के वकीलों ने कहा,“शिकायत और सरकार के दखल के बाद 10 फीसदी कोटे का प्रावधान तो किया लेकिन इसका पालन नहीं हो रहा है। हालत यह है कि इस क्लब में खेल टूर्नामेंटों से होने वाली आय मात्र 44 लाख रूपये है जबकि खाने-पीने से होने वाली कमाई 13.15 करोड़ रूपये है। हम यह सवाल भी उठाते हैं कि आखिर कैसे 2012 में दिल्ली गोल्फ क्लब की लीज़ शहरी विकास मंत्रालय ने 2050 तक के लिये बढ़ा दी।”

इस गोल्फ क्लब से तैयार हुये कई गोल्फरों को दिल्ली गोल्फ क्लब की ओर से एक निर्देश दिया गया है जिसमें कहा गया है कि उन्हें 31 जनवरी तक खेलने का अधिकार दिया जाता है लेकिन उनके प्रदर्शन की समीक्षा के बाद ही उन्हें आगे खेलने के अधिकार दिये जाएंगे।

175 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।