Loading... Please wait...

बुनकरों और शिल्पियों के उत्पाद अब अमेजन पर

भोपाल। मध्यप्रदेश के शिल्पियों और बुनकरों द्वारा बनाए जाने वाले आकर्षक उत्पाद अब ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी अमेजन के जरिए देश विदेश में बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगे। फिलहाल लगभग साढ़े सात सौ उत्पाद ऑनलाइन बिक्री के लिए संबंधित वेबसाइट पर उपलब्ध रहेंगे।

इस आशय का समझौता आज यहां संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम के अध्यक्ष नारायण प्रसाद कबीरपंथी और प्रबंध संचालक नीरज दुबे की मौजूदगी में निगम और अमेजन के बीच हुआ।

इस अवसर पर अमेजन की अधिकारी श्रीमती अर्चना वोहरा भी मौजूद थीं। निगम के उत्पाद 'मृगनयनी' के नाम से देश विदेश में प्रसिद्ध हैं, जो राज्य के शिल्पियों और बुनकरों की ओर से परंपरागत ढंग से बनाए जाते हैं। फिलहाल लगभग साढ़े सात सौ उत्पाद ऑनलाइन बिक्री के लिए संबंधित वेबसाइट पर उपलब्ध रहेंगे। निगम के अध्यक्ष श्री कबीरपंथी ने इस समझौते पर प्रसन्नता जताते हुए उम्मीद जतायी कि इनसे राज्य के बुनकर और शिल्पी भी लाभांवित होंगे। प्रबंध संचालक श्री दुबे ने बताया कि निगम के मृगनयनी के उत्पादों के मार्केटिंग की जिम्मेदारी अमेजन को सौंपी है। हालाकि प्रदर्शनी और निगम के आउटलेट्स के जरिए भी उत्पादों की बिक्री देश विदेश में जारी रहेगी। अमेजन की अधिकारी श्रीमती वोहरा ने कहा कि मृगनयनी के उत्पाद अमेजन ऑनलाइन बेचेगा।

बुकिंग कराने के बाद उत्पाद संबंधित ग्राहकों को दो दिन में पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा। मृगनयनी के उत्पादों में देश विदेश में प्रसिद्ध चंदेरी की साड़ी और इनके जैसी अनेक कृतियां शामिल हैं। इनमें महेश्वर, सौंसर, बाग प्रिंट, डाबू प्रिंट और हैंडलूम शिफॉन भी शामिल हैं। जरदौजी के बटुए और रेडीमेड गारमेंट्स भी इन उत्पादों में शामिल हैं।

 

88 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2019 ANF Foundation
Maintained by Quantumsoftech