गैर सहायता प्राप्त कॉलेज की मदद की जाएगी: धर्मसोत

चंडीगढ़। पंजाब के बन एवं समाज कल्याण मंत्री साधु सिंह धर्मसोत ने अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद(एआईसीटीई) से मान्यता प्राप्त राज्य के गैर सहायता प्राप्त कॉलेजों को उनकी समस्याओं के समाधान में हरसम्भव मदद का आश्वासन दिया है। श्री धर्मसोत ने पंजाब गैर सहायता प्राप्त कॉलेज संघ(पीयूसीए) के चौथे स्थापना दिवस पर यहां आयोजित एक समारोह में अपने सम्बोधन में राज्य की पिछली अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार निशाना साधते हुए कहा कि उसके उपेक्षित रवैये के कारण पंजाब के लगभग 1600 गैर सहायता प्राप्त कॉलेजों में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति वर्ग के तीन लाख से ज्यादा छात्र पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति(पीएमएस) से वंचित रहे।

उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार के सत्ता में आने पर न केवल पीएमएसएस के लिये ऑडिट कराया बल्कि कॉलेज छोड़ने वाले उक्त वर्ग के छात्रों के लिये छात्रवृत्ति की भी व्यवस्था की। उन्होंने दावा किया कि केंद्र सरकार की ओर से पीएमएस राशि जारी करने में विलम्ब हो रहा था लेकिन राज्य सरकार ने इस सम्बंध में लगातार सम्पर्क बनाए रखने के फलस्वरूप वह 323 करोड़ रूपये और 284 करोड़ रूपये दो किस्तों में हासिल करने में सफल रही। इस राशि में राज्य सरकार ने अपना अंशदान भी जारी किया है।

मंत्री ने इस मौके पर पीयूसीए की नई वेबसाईट पीयूसीएपंजाब.कॉम का भी अनावरण किया जिस पर पीयूसीए के सभी कॉलेजों और इनकी विश्वविद्यालयों के साथ संबद्धता की विस्तृत जानकारी उपलब्ध होगी तथा यह इन कॉलेजों में प्रवेश लेने के इच्छुक छात्रों के लिये भी मददगार साबित होगी। इस अवसर पर पीयूसीए के अध्यक्ष डा0 अंशु कटारिया, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अमित शर्मा के अलावा अन्य पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

45 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।