साइबर लॉ में करियर की ढेरों संभावनाएं

साइबर कानून डिजिटल कानूनी प्रणाली का एक हिस्सा है जो इंटरनेट, साइबर स्पेस, और उनके संबंधित कानूनी मुद्दों से संबंधित है। जिस तरह से देश में इंटरनेट का विस्तार हो रहा है, उसी तरह साइबर क्राइम भी बढ़ रहा है। साइबर क्राइम से निपटने के लिए आज साइबर लॉ एक्सपर्ट की डिमांड बढ़ गई है। साइबर कानून को बोलचाल की भाषा में इन्टरनेट का कानून भी कहा जा सकता है जिसके माध्यम से हमे इन्टरनेट में बिना रोक-टोक एवं स्वतंत्र भाव से (पर्सनल डाटा खो जाने के भय से परे) कंटेंट ब्राउज करने में सहूलियत मिलती है| साइबर लॉ एक बेहद अहम और नया क्षेत्र है, जहां आप अपनी क़िस्मत आज़मा सकते हैं। कंप्यूटर से लगाव और नई-नई टेक्नोलॉजी के प्रति जागरूक लोग इस क्षेत्र में अपना कौशल दिखा सकते हैं।

साइबर क्राइम के प्रकार

•    हैकिंग

•    डेटा की चोरी

•    ई-मेल स्पूफिंग और फ्रॉड

•    तंग करना

•    आईपीआर (बौद्धिक संपदा) उल्लंघन

•    पोर्नोग्राफी

•    पहचान की चोरी

योग्यता

साइबर लॉ में करियर बनाने के लिए कम से कम 12वीं या स्नातक(ग्रैज्युएट) होना बहुत ज़रूरी है। पहले से आईटी या लॉ की पढ़ाई कर चुके लोग इसे अलग से पढ़ सकते हैं। इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए तकनीकी तौर पर चुस्त-दुरुस्त रहना बहुत ज़रूरी है। साइबर अपराधियों द्वारा भेजे गए कोड को तोड़ने की क्षमता और वो कहां से मैसेज भेज रहा है? आदि सूचनाएं एकत्रित करना बख़ूबी आना चाहिए।

प्रमुख संस्थान

•    डिपार्टमेंट ऑफ लॉ, दिल्ली यूनिवर्सीटी

•    एमिटी लॉ स्कूल, दिल्ली

•    आईएमटी, गाज़ियाबाद

•    नेशनल लॉ यूनिवर्सीटी, जोधपुर

•    स्कूल ऑफ लीगल स्टडीज़, शिमला

•    फैकल्टी ऑफ लॉ, लखनऊ यूनिवर्सीटी, लखनऊ

•    पश्चिम बंगाल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ज्यूडिशियल साइंस, कोलकाता

•    इंडियन लॉ इंस्टीट्यूट, नई दिल्ली

•    इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद

रोज़गार के अवसर

साइबर क्राइम का क्षेत्र बढ़ता जा रहा है। रोज़गार के अवसर देश से विदेश तक हैं। साइबर लॉ एक्सपर्ट सरकारी, निजी बैंकिंग सेक्टर, बीपीओ, आईबी, आईटी, शिक्षण संस्थान आदि जगह नौकरी कर सकते हैं। इसके अलावा बड़े-बड़े प्राइवेट फर्म भी निजी तौर पर साइबर लॉ एक्सपर्ट को अप्वाइंट करते हैं। इसके साथ ही एयरलाइंस, हेल्थकेयर, ट्रांसपोर्टेशन, इनफ्रास्ट्रक्चर, इमर्जेंसी रिस्पॉन्स सिस्टम आदि जगह भी क़िस्मत आज़मा सकते हैं।

सैलरी

साइबर लॉ स्पेशलिस्ट की डिमांड तेज़ी से बढ़ रही है। इसके साथ ही इसमें सैलरी भी बहुत ज़्यादा मिलती है। शुरुआत में प्रतिमाह 15-20 हज़ार मिलते हैं। इसके बाद सैलरी की कोई सीमा नहीं। बड़े-बड़े फर्म लाख रुपए महीने भी साइबर लॉ एक्सपर्ट को देते हैं। इस क्षेत्र में फ्रीलांस काम करके भी आप मनमुताबिक पैसा कमा सकते हैं।

214 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।