Loading... Please wait...

कांग्रेस-मुक्त उत्तर-पूर्व

संपादकीय-2
ALSO READ

तीन राज्यों में कांग्रेस जीत के शोर में ये तथ्य दब गया कि पूरा उत्तर-पूर्व फिलहाल कांग्रेस मुक्त हो गया है। इस साल की शुरुआत में कांग्रेस कोमेघालयकी सत्ता से हाथ धोना पड़ा था। उसके बाद उसकी उम्मीद मिजोरमपर टिकी थी। लेकिन वहां उसे अब वहां भी सत्ता गंवानी पड़ी है। उसेमिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा। खुद मुख्यमंत्री ललथनहवला दोनों सीटों से चुनाव हार गए। बीजेपी ने लगभग तीन साल पहले पूर्वोत्तर को कांग्रेसमुक्त करने का नारा दिया था।मिजोरम में बीजेपी कुछ खास नहीं कर सकी।लेकिन वहां कांग्रेस को सत्ता से बेदखल करने का उसका मकसद जरूर पूरा हो गया। आजादी के बाद से ज्यादातर समय तक सभी सातों राज्यों पर राज करने वाली कांग्रेस के पैरों तले जमीन खिसकने का सिलसिला लगभग एक दशक पहले ही शुरू हो गया था। अरुणाचल प्रदेश और इलाके के कुछ अन्य राज्यों में क्षेत्रीय दलों के बढ़ते वर्चस्व और पूरी सरकार के पाला बदलने (अरुणाचल प्रदेश के मामले में) की वजह से कांग्रेस धीरे-धीरे हाशिए पर जाने लगी।

बावजूद इसके उसने इलाके के सबसे बड़े राज्य असम के अलावा पड़ोसी मेघालय और नागालैंड पर अपनी पकड़ बनाए रखी थी। लेकिन दो साल पहले हुए विधानसभा चुनावों में पहले असम उसके हाथों से निकला और फिर इस साल मेघालय और नगालैंड।दरअसल इलाके में कांग्रेस के कमजोर होने की कई ठोस वजहें हैं। यह स्थिति कोई एक दिन में नहीं बनीं। लेकिन पार्टी नेतृत्व ने सही समय पर ध्यान नहीं दिया। इस इलाके के लोगों की आम शिकायत है कि कांग्रेस के लंबे शासन के दौरान इलाके के ज्यादातर राज्यों में विकास के नाम पर कोई काम नहीं हुआ। न तो आधारभूत ढांचे को मजबूत करने की दिशा में कोई काम हुआ, न ही उग्रवाद पर काबू पाने की दिशा में। इसके अलावा इस दौरान बड़े पैमाने पर भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार का पनपना भी जन असंतोष का प्रमुख कारण रहा। इस कारण युवकों में पनपी हताशा और आक्रोश ने उग्रवाद की शक्ल ले ली। उधरना कोई उद्योग-धंधा लगा और न ही विकास परियोजनाओं पर अमल किया गया। मिजोरम में तो लोग दस-दस साल के अंतराल पर कांग्रेस को मौका देते रहे। लेकिन वहां भी विकास के नाम पर कोई काम नहीं हुआ। नतीजा अबकी कांग्रेस की पराजय के तौर पर सामने आया है। अब वहां कांग्रेस का पुनरुद्धार बहुत मुश्किल लगता है।

84 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2019 ANF Foundation
Maintained by Quantumsoftech