Loading... Please wait...

कंप्यूटर बाबा बने सिरदर्द

संपादकीय-2
ALSO READ

अब कंप्यूटर बाबा शिवराज सिंह चौहान का सिरदर्द बन गए हैं। गौरतलब है कि इस साल  मध्य प्रदेश सरकार ने पांच संतों को राज्यमंत्री का दर्जा दिया था। तब इसे मध्य प्रदेश भाजपा और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक महत्वाकांक्षी कदम माना गया। लेकिन अब उन्हीं में से एक संत की नाराजगी ने प्रदेश में विधानसभा चुनाव से ऐन पहले सरकार के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। मध्य प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली से नाराज कंप्यूटर बाबा ने पिछले दिनों ही राज्यमंत्री के दर्जे से इस्तीफा दिया  और अब वह सीएम को खुली चुनौती दे रहे हैं। कंप्यूटर बाबा संतों के समागम में मन की बात के जरिए शिवराज सरकार पर निशाना साधेंगे। कंप्यूटर बाबा यह अभियान मंगलवार से इंदौर में शुरू कर रहे हैं। इस दौरान वे नर्मदा में अवैध खनन और गोरक्षा जैसे मामलों पर चर्चा करेंगे। प्रदेश में वैसे ही विधानसभा चुनाव का माहौल है ऐसे में बीजेपी के माथे पर शिकन होना लाजमी है। नतीजतन बीजेपी  नाराज कंप्यूटर बाबा को मनाने के प्रयास में जुटी है। खबरों की मानें तो बीजेपी इसके लिए दूसरे राज्यों के बड़े-बड़े संतों को कंप्यूटर बाबा के पास भेजने की तैयारी कर रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीजेपी जूनापीठ के पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी को कंप्यूटर बाबा के पास भेजने वाली है।  

दरअसल, इस महीने की शुरुआत में ही मध्य प्रदेश के दर्जा प्राप्‍त राज्‍यमंत्री संत नामदेव शास्त्री उर्फ कंप्यूटर बाबा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पर उपेक्षा का आरोप लगाते हुए अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया था। कंप्यूटर बाबा ने राज्‍य सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार ने धर्म और संत समाज की उपेक्षा की है। उन्होंने सरकार के गो मंत्रालय बनाने की घोषणा पर भी सवाल उठाए। साथ ही सरकार से अलग नर्मदा मंत्रालय बनाने की मांग की थी। कंप्यूटर बाबा का पूरा नाम अनंत विभूषित 1008 महामंडलेश्वर नामदेव त्यागी है। कंप्यूटर बाबा नाम के पीछे वजह उनका इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के लिए प्यार और हमेशा साथ में लैपटॉप होना है। दो साल पहले उन्होंने सिंहस्थ में मध्य प्रदेश सरकार की तैयारियों की पोल खोली थी। बाबा ने उज्जैन से लेकर दिल्ली तक मध्य प्रदेश सरकार द्वारा सिंहस्थ में किए गए भ्रष्टाचार को उजागर किया है।  हेलीकॉप्टर राइड और चुनाव लड़ने की प्रबल इच्छा रखने के चलते कंप्यूटर बाबा हमेशा चर्चा में रहते हैं। इसी कारण भाजपा परेशान है। उनकी वजह से पार्टी को चुनाव में नुकसान हो सकता है। बहरहाल, राजनीति और धर्म के घालमेल का यह स्वाभाविक परिणाम है।

110 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2019 ANF Foundation
Maintained by Quantumsoftech