संपादकीय-2

अब सख्त हुआ अमेरिका

मुंबई पर आतंकवादी हमले की दसवीं बरसी पर अमेरिका ने भारत के पक्ष में खास रुख अपनाया। डोनल्ड ट्रंप प्रशासन ने एलान किया कि मुंबई हमले की साजिश से जुड़े और पढ़ें....

इंसाफ पर व्यापार भारी

पत्रकार जमाल ख़शोगी की हत्या के लिए अब अमेरिकी राष्ट्रपति ने सारी दुनिया को दोषी ठहरा दिया है। इस तरह उन्होंने सऊदी अरब के शाही परिवार को बचाने की कोशिश और पढ़ें....

मुद्दा है प्रभावी अमल का

किसी समस्या पर सख्त कानून बनाना सरकारों के लिए सबसे आसान रास्ता होता है। महाराष्ट्र सरकार ने भी फिलहाल इसे ही अपनाया है। राज्य सरकार ने पिछले हफ्ते और पढ़ें....

अवैध खनन का साथ

गोवा में अवैध खनन का मामला सबसे पहले यूपीए के शासनकाल में उठा था। इस मामले ने तब खूब जोर पकड़ा। गोवा में हुए सत्ता बदल में इसकी भूमिका रही। लेकिन सत्ता और पढ़ें....

एक नया चिपको आंदोलन

यह एक नए तरह का चिपको आंदोलन है। 1970-80 के दशक में उत्तराखंड का चिपको आंदोलन दुनिया भर में मशहूर हुआ था। अब वैसा नजारा ओडीशा में देखने को मिल रहा है। वहां और पढ़ें....

आर्थिक संकट से परेशान पाक

धन की कमी से जूझ रहे पाकिस्तान की सरकार जल्द ही अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के अधिकारियों के साथ बेलआउट पैकेज पर बातचीत करेगी। इस दौरान एक बड़ा मुद्दा यही और पढ़ें....

ब्रेग्जिट पर उथल-पुथल

ब्रेग्जिट मुद्दे पर ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा में घिर-सी गई हैं। हालात यहां तक पहुंचे कि उन्हें अपनी तुलना एक समय के इंग्लैंड के डिफेंसिव टेस्ट और पढ़ें....

वापस भेजे जाएंगे रोहिंग्या?

फिलहाल एक अजीब विडंबना है। इस वक्त जितने रोहिंग्या मुस्लिम म्यांमार में हैं, उनकी उससे अधिक संख्या बांग्लादेश में है। अब वहां से रोहिंग्या शरणार्थियों और पढ़ें....

चुकानी पड़ रही है कीमत

कभी मानवाधिकारों के लिए संघर्ष की निशानी रहीं आंग सान सू ची को रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे पर चौतरफा आलोचना झेलनी पड़ रही है। हाल में उनसे कई सम्मान और पढ़ें....

वचनबद्धताएं और हकीकत

भारत सरकार का दावा है कि जलवायु परिवर्तन पर वो अपनी दो प्रतिबद्धताओं को पूरा करने की राह पर है। ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन की तीव्रता में कमी और गैर और पढ़ें....

5678910111213
(Displaying 81-90 of 577)