संपादकीय-2

खतरे में बोलने की आजादी?

अभिव्यक्ति की आजादी के मुद्दे पर दुनिया में भारत की छवि बिगड़ रही है। इसका एक प्रमाण एमनेस्टी इंटरनेशन का ताजा बयान है। एमनेस्टी की भूमिका विवादित रही और पढ़ें....

पहली परीक्षा में फेल

पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को संभालने की प्रधानमंत्री इमरान खान की कोशिश शुरू होने से पहले ही लड़खड़ा गई है। उन्होंने विदेशों में रहने वाले पाकिस्तानी और पढ़ें....

सुशील मोदी पर शिकंजा?

आयकर विभाग की टीम ने पिछले हफ्ते करोड़ों रुपये के सृजन घोटाला मामले में गुरुवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की बहन रेखा मोदी के पटना और पढ़ें....

जुबान पर ये लगाम क्यों?

हाल में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने एक परामर्श जारी कर सभी मीडिया संस्थानों को अनुसूचित जातियों से जुड़े लोगों के लिए ‘दलित’ शब्द के इस्तेमाल से और पढ़ें....

कामयाब होगा इमरान का दांव?

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने देश में खर्च में कटौती की मुहिम छेड़ दी है। मकसद है कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की मदद लेने से बचना। और पढ़ें....

गंभीरतम संकट में गंगा

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार गंगा सफाई को लेकर कई सारे दावे करती रही है। लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर के एनजीओ वर्ल्ड वाइड फंड (डब्लूडब्लूएफ) की रिपोर्ट पर और पढ़ें....

चुनौती स्वीकार करे केंद्र

देश के सकल घरेलू उत्पाद में इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में बड़ी बढ़ोतरी हुई। लेकिन क्या यह सचमुच अर्थव्यवस्था में सुधार का संकेत है? सरकार की तरफ से ये और पढ़ें....

नोटबंदी पर निरुत्तर सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवंबर 2016 में अचानक टीवी पर पांच सौ और एक हजार रुपये के नोट बंद करने की घोषणा की थी। मकसद काले धन को खत्म करना बताया गया था। मगर और पढ़ें....

पारदर्शिता पर एतराज क्यों?

सुप्रीम कोर्ट ने चुनावों में पारदर्शिता के पक्ष में एक महत्त्वपूर्ण टिप्पणी की है। कहा है कि मतदाताओं को उम्मीदवारों की पृष्ठभूमि जानने का अधिकार है। और पढ़ें....

शरणार्थी बच्चों की दुर्दशा

शरणार्थी बच्चों की दुर्दशा अत्यंत पीड़ादायक है। आखिरकार अब इस समस्या की तरफ कई देशों का ध्यान गया है। गौरतलब है कि इस समस्या का सबसे ज्यादा असर बच्चों और पढ़ें....

101112131415161718
(Displaying 131-140 of 575)