Loading... Please wait...

चीन में मुसलमानों का दमन

संपादकीय-2
ALSO READ

चीन में मुसलमानों का दमन हो रहा है। ये इल्जाम एमनेस्टी इंटरनेशनल ने लगाया । इस अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल की एक रिपोर्ट के अनुसार चीन में ऐसे कई कैंप और शिविर चल रहे हैं जहां बड़ी संख्या में अल्पसंख्यकों को बंदी बना कर रखा गया है। एमनेस्टी ने कहा है कि चीन को अब इससे इनकार करने की जगह यह साफ करना चाहिए कि आखिर दस लाख मुस्लिम आबादी कहां गायब हो गई। इस रिपोर्ट में कई सौ ऐसे लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं, जो इन कैंपों में रह रहे थे। देश में पहले ही उइगुर मुसलमानों समेत अन्य अल्पसंख्यकों पर तरह-तरह के नियम कायदे लदे हुए हैं। उइगुर मुसलमान देश में न तो सार्वजनिक रूप से नमाज पढ़ सकते हैं और न ही धार्मिक लिबास पहन सकते हैं। हाल ही में संयुक्त राष्ट्र ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि चीन ने निगरानी के नाम पर लाखों मुसलमानों को शिविरों में कैद कर दिया है।

इनमें से कई का अपराध यह था कि उन्होंने देश के बाहर अपने परिवार वालों से संपर्क किया और कुछ तो सिर्फ इसलिए पकड़े गए क्योंकि उन्होंने सोशल मीडिया पर इस्लामिक त्योहार से जुड़े पोस्ट शेयर किए। एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कि अल्पसंख्यकों के खिलाफ उठाए गए इस कदम ने हजारों परिवारों को अलग कर दिया है। अब लोग जानना चाहते हैं कि उनके परिवार वाले कहां हैं और उनके साथ क्या हुआ। अब समय आ गया है कि चीन प्रशासन इन सवालों के जवाब दे। चीन सरकार ऐसे शिविरों और कैंपों की मौजूदगी से इनकार करती रही है, लेकिन सरकारी दस्तावेज और शिविरों से भागे लोगों के बयान सरकार के खिलाफ गए हैं। एमनेस्टी इंटरनेशनल ने इस रिपोर्ट में कई पूर्व कैदियों से बातचीत का ब्योरा दिया है।

इसमें बंदियों ने कहा है कि उन्हें बेड़ियों में जकड़कर रखा जाता था, यातनाएं दी जाती थीं और राजनीतिक गीत गाने के साथ-साथ कम्युनिस्ट पार्टी के बारे में जानने को भी कहा जाता था। ये सारे बयान और सबूत पिछले सालों में विदेशी पत्रकारों और मानवाधिकार समूहों ने दर्ज किए थे। अब एमनेस्टी इंटरनेशनल ने दुनिया भर की सरकारों से इस मामले में दखल देने की अपील की है। मगर इस समय जबकि डोनल्ड ट्रंप के जमाने में अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था उथल-पुथल की शिकार है, इस अपील पर कोई ध्यान देगा, इसकी संभावना कम है। इस दौर में बहुपक्षीय प्रयास बेअसर होते दिख रहे हैं। 

160 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2019 ANF Foundation
Maintained by Quantumsoftech