Loading... Please wait...

चहल की फिरकी से आस्ट्रेलिया ढेर, भारत को 231 रन का लक्ष्य

मेलबर्न। लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (42 रन पर छह विकेट) की फिरकी के जादू से भारत ने शुक्रवार को यहां तीसरे और अंतिम एकदिवसीय क्रिकेट मैच में ऑस्ट्रेलिया को 48.4 ओवर में 230 रन पर आउट कर दिया। तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला 1-1 की बराबरी पर है जिसे जीतने के लिए भारत को 231 रन की जरूरत है।

श्रृंखला में अपना पहला मैच खेल रहे चहल ने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 10 ओवर में 42 रन देकर छह विकेट लिये। उनका पिछला सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दक्षिण अफ्रीका के सेंचुरियन में 22 रन पर पांच विकेट था। उन्होंने आस्ट्रेलिया में किसी भारतीय गेंदबाज की सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी की। इससे पहले अजित अगरकर ने भी इसी मैदान पर 42 रन देकर छह विकेट लिये थे। यह इस मैदान पर किसी विदेशी गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है।

अगरकर ने 2004 में त्रिकोणीय श्रृंखला में यह प्रदर्शन किया था। चहल के अलावा भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी ने भी दो-दो विकेट लिये। ऑस्ट्रेलिया के लिए पीटर हैंड्सकांब ने 58 रन की पारी खेली। टास जीतकर भारत ने क्षेत्ररक्षण का फैसला किया लेकिन खराब मौसम के कारण खेल दस मिनट देर से शुरू हुआ। आस्ट्रेलियाई पारी में दो गेंद डालने के बाद ही खेल एक बार फिर 20 मिनट के लिए रोकना पड़ा।

आस्ट्रेलिया की शुरूआत खराब रही। पारी के तीसरे ओवर में ही भुवनेश्वर कुमार ने सलामी बल्लेबाज एलेक्स कैरी (05) को स्लिप में खड़े कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच कराकर पवेलियन भेजा। कप्तान आरोन फिंच की खराब फार्म इस मैच में भी जारी रही जो 14 रन बनाकर भुवनेश्वर का दूसरा शिकार बने। नौवें ओवर में 27 रन पर दोनों सलामी बल्लेबाजों का विकेट खोने के बाद उस्मान ख्वाजा (34) और पिछले मैच में शतकीय पारी खेलने वाले शान मार्श (39) ने टीम के स्कोर को 100 तक पहुंचाया। चहल ने पारी के 24वें ओवर में दोनों का विकट झटककर मैच पर भारत की पकड़ मजबूत कर दी। इस ओवर की पहली गेंद पर धोनी ने मार्श को स्टंप किया जबकि चौथी गेंद पर ख्वाजा चहल को ही कैच दे बैठे। हैंड्सकांब ने इसके बाद अर्धशतकीय पारी खेली लेकिन दूसरे छोर से उन्हें अच्छा साथ नहीं मिला। मार्कस स्टोइनिस 10 रन बनाकर चहल का तीसरा शिकार बने। उनका कैच स्लिप में खड़े रोहित शर्मा ने पकड़ा।

ग्लेन मैक्सवेल ने इसके बाद तेजी से रन बनाने की कोशिश और उन्होंने चहल के खिलाफ आक्रामक रूख अख्तियार करते हुए तीन चौके भी लगाये लेकिन शमी की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में वह भुवनेश्वर कुमार को कैच थमा बैठे। हैंड्सकांब ने 42वें ओवर में चहल की पांचवी गेंद पर एक रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया। यह मौजूदा श्रृंखला में उनकी दूसरी अर्धशतकीय पारी है। उन्होंने जाय रिचर्डसन (16) साथ स्कोर को 200 के पार पहुंचाया। चहल ने हालांकि रिचर्डसन का विकेट लेकर दोनों की 45 रन की साझेदारी को तोड़ा। हैंड्सकांब भी इसके बाद ज्यादा रन नहीं जोड़ पाये और चहल के पांचवें शिकार बने। पगबाधा आउट होने से पहले उन्होंने 63 गेंद में पांच चौके की मदद से 58 रन बनाये। चहल ने इसके बार एकदिवसीय में पदार्पण कर रहे विजय शंकर के हाथों कैच कराकर एडम जम्पा (08) को पवेलियन भेजा। शमी ने बिली स्टोनलेक को बोल्ड कर ऑस्ट्रेलियाई पारी का अंत किया। भारत ने मैच के लिए टीम में तीन बदलाव किये। हरफनमौला शंकर एकदिवसीय में पदार्पण कर रहे हैं, उन्हें मोहम्मद सिराज की जगह टीम में शामिल किया गया है। अंबाती रायुडू की जगह केदार जाधव और कुलदीप यादव की जगह चहल को मौका मिला है। ऑस्ट्रेलिया ने अंतिम एकदश में दो बदलाव किये। जैसन बेहरेनडोर्फ और नाथन लियोन की जगह क्रमश: स्टोनलेक और जम्पा को टीम में शामिल किया गया है।

71 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2019 ANF Foundation
Maintained by Quantumsoftech