Loading... Please wait...

केआईवाईजी-2019 : जिम्नास्टिक में चमकीं जम्मू एवं कश्मीर की बवलीन

पुणे। खेलो इंडिया यूथ गेम्स (केआईवाईजी) में जम्मू एवं कश्मीर की महिला जिम्नास्टिक खिलाड़ी बवलीन कौर ने अपने प्रदर्शन से राज्य का नाम तो रौशन किया ही है, साथ ही कई लोगों का ध्यान भी अपनी तरफ खींचा है। बवलीन ने इन खेलों में जितनी स्पर्धाओं में हिस्सा लिया है, उनमें सभी में पदक हासिल किया है। जम्मू एवं कश्मीर ने केआईवाईजी-2019 के दूसरे दिन गुरुवार तक छह पदक जीते जिसमें से पांच पदक बवलीन के हैं जबकि छठा पदक वंदना बालामुरुगन का है जिन्होंने रिबन में तीसरा स्थान हासिल किया। इन दोनों के कमाल से जम्मू एवं कश्मीर गुरुवार को पदक तालिका में टॉप-10 में खुद को रखने में सफल रहा।

पिछले सप्ताह ही 16 साल की हुई बवलीन ने इन खेलों में अब तक तीन स्वर्ण और दो रजत पदक जीते हैं। बवलीन ने जिम्नास्टिक के बाल, रिबन, क्लब्स और हूप स्पर्धा में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और क्रमश : 12.35, 11.25, 13.30 और 11.40 के स्कोर के साथ पदक पर कब्जा जमाया। उन्होंने ऑल राउंड वर्ग में 43.40 का स्कोर किया और मेजबान महाराष्ट्र की श्रेया भांगले और कृषा चेदा को पछाड़कर स्वर्ण पदक जीता।

बवीलन ने अपनी सफलता का श्रेय अपने प्रशिक्षकों क्रुपाली पटेल सिंह और एस. पी. सिंह को दिया। बवलीन ने कहा, "मैं यहां केवल अपने प्रशिक्षकों की वजह से हूं जिन्होंने इस बड़े टूर्नामेंट की तैयारी के लिए मेरी मदद की। बवलीन ने न केवल अपनी उपलब्धि पर खुशी जाहिर कि बल्कि उन्होंने अपने टीम साथी वंदना बालामुरुगन की सफलता पर भी खुशी का इहजहार किया। वंदना ने रिबन स्पर्धा में 10.30 का स्कोर कर कांस्य पदक जीता।

बवलीन ने अपने लक्ष्य के बारे में कहा, "मैंने यहां जो कुछ भी हासिल किया है, उससे मैं खुश हूं लेकिन यह अभी सिर्फ एक शुरुआत है। मैं 2022 में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में देश का प्रतिनिधित्व करने के बड़े लक्ष्य को लेकर आगे भी अच्छा प्रदर्शन करना जारी रखूंगी। देश के लिए पदक जीतना मेरा अंतिम लक्ष्य है और मैं इसके लिए तैयारी करने में कोई कसर नहीं छोडूंगी।

36 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।

© 2019 ANF Foundation
Maintained by Quantumsoftech