राष्ट्रीय चैपियनशिप से आल इंग्लैंड में मदद मिलेगी: प्रणीत

गुवाहाटी। बीडल्यूएफ के व्यस्त कैलेंडर के कारण पिछले साल साई प्रणीत की फिटनेस पर असर पड़ा लेकिन इस भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ने कहा कि ओलंपिक क्वालीफिकेशन वर्ष में वह अपने टूर्नामेंटों का चयन सतर्कता के साथ करेंगे और अगले महीने आल इंग्लैंड चैंपियनशिप की तैयारी के लिए उनकी नजरें राष्ट्रीय चैंपियनशिप का खिताब जीतने पर टिकी हैं। गत चैंपियन एचएस प्रणय और उप विजेता किदांबी श्रीकांत के फिटनेस मुद्दों के कारण हटने के बाद पूर्व चैंपियन प्रणीत मंगलवार को यहां क्वालीफायर के साथ शुरू हुई 83वीं सीनियर राष्ट्रीय चैंपियनशिप में खिताब के प्रबल दावेदारों में शामिल हैं।

प्रणीत ने कहा, ‘‘पिछले सत्र में मुझे अपनी फिटनेस और आत्मविश्वास को लेकर जूझना पड़ा क्योंकि काफी सारे टूर्नामेंट थे। इसलिए मैं फिटनेस को बरकरार नहीं रख पाया। जून से दिसंबर तक मैं लगातार खेलता रहा, इसलिए यह सब फिटनेस से जुड़ा है। अब मैं ठीक हूं और भाग्य से कोई चोट नहीं है।’’ इस साल स्विस ओपन में भी खेलने वाले प्रणीत ने कहा, ‘‘मैं अगले महीने होने वाले आल इंग्लैंड को लेकर उत्सुक हूं और राष्ट्रीय चैंपियनशिप तैयारी के लिए अच्छा मैच अभ्यास होगा। अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों से पहले इससे आत्मविश्वास में मदद मिलेगी। इसे जीतने के लिए आपको भारत के सभी शीर्ष खिलाड़ियों को हराना होगा और यह आसान नहीं है क्योंकि सभी काफी अच्छा खेल रहे हैं।’’

ओलंपिक क्वालीफिकेशन समय 29 अप्रैल 2019 से 26 अप्रैल 2020 होगा और 30 अप्रैल को जारी होने वाली बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग से तय होगा कि किस खिलाड़ी को तोक्यो खेलों में जगह मिलेगी। विश्व रैंकिंग में 26वें स्थान पर काबिज प्रणीत ने कहा कि ओलंपिक का टिकट हासिल करने के लिए उन्हें कुछ भाग्य और लगातार अच्छे प्रदर्शन की जरूरत होगी। भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने ओलंपिक से पहले खिलाड़ियों के साथ काम करने के लिए दो कोरियाई कोचों किम जी ह्युन और पार्क तेइ सेंग को नियुक्त किया है। हैदराबाद के 26 साल के प्रणीत ने कहा कि वह विदेशी कोचों के साथ काम करने के लिए उत्सुक हैं।

62 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।