आर्यन डोपिंग में पकड़े जाने वाले पहले भारतीय टेनिस खिलाड़ी

नई दिल्ली। आर्यन भाटिया डोप परीक्षण में नाकाम रहने वाले पहले भारतीय टेनिस खिलाड़ी बन गये हैं और उन्हें अस्थायी तौर पर निलंबित कर दिया गया है। राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। सोलह वर्षीय भाटिया के पेशाब का नमूना का पिछले साल अक्टूबर में यहां फेनेस्टा ओपन राष्ट्रीय टेनिस चैंपियनशिप के दौरान लिया गया था। नाडा ने चैंपियनशिप के दौरान पहली बार टेनिस खिलाड़ियों के नमूने एकत्रित किये थे।

नाडा ने इसके अलावा सात अन्य खिलाड़ियों को भी डोप परीक्षण में असफल रहने के कारण पिछले महीने अस्थायी तौर पर निलंबित किया था। इनमें संदीप कौर (पावरलिफ्टिंग), अंकित गोसाई (हैंडबॉल), जीतू थामस (वॉलीबाल), येपाबा (कैनोइंग), विशन सिंह (कयाकिंग और कैनोइंग) तथा शिवम कसाना (साइकिलिंग) शामिल हैं। मध्यम दूरी की धाविका मोनिका चौधरी पर डोपिंग रोधी अनुशासन पैनल ने चार साल का प्रतिबंध लगाया है। उन्हें ईपीओ के लिये पाजीटिव पाया गया था। नाडा ने इसके साथ ही कहा कि उसने पिछले महीने 675 डोप परीक्षण किये जिनमें 57 रक्त के नमूने शामिल हैं।

147 Views

बताएं अपनी राय!

नीचे नजर आ रहे कॉमेंट अपने आप साइट पर लाइव हो रहे है। हमने फिल्टर लगा रखे है ताकि कोई आपत्तिजनक शब्द, कॉमेंट लाइव न हो पाए। यदि ऐसा कोई कॉमेंट- टिप्पणी लाइव हुई और लगी हुई है जिसमें अर्नगल और आपत्तिजनक बात लगती है, गाली या गंदी-अभर्द भाषा है या व्यक्तिगत आक्षेप है तो उस कॉमेंट के साथ लगे ‘ आपत्तिजनक’ लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद आपत्ति का कारण चुने और सबमिट करें। हम उस पर कार्रवाई करते उसे जल्द से जल्द हटा देगें। अपनी टिप्पणी खोजने के लिए अपने कीबोर्ड पर एकसाथ crtl और F दबाएं व अपना नाम टाइप करें।

आपका कॉमेट लाइव होते ही इसकी सूचना ईमेल से आपको जाएगी।